आज का दिन 3 मई 2018 मतलब World Press Freedom Day‬‬. आज कल टेक्नोलॉजी के ज़माने में Social Media, Print Media और TV Media का अच्छा खासा प्रभाव चल रहा है.

लेकिन मीडिया यानि की प्रेस एक ऐसी चीज है जो अपने काम निष्पक्ष काम के लिए भी जाना जाता है और किसी के दबाव में आके भी काम करने में जाना जाता है. खास करके भारत की बात करे तो यहाँ जैसे जैसे सरकार बदलती रहती है वैसे मीडिया के ऊपर इसका प्रभाव भी कुछ हद तक बदलता रहता है.

अगर बात करे 1975 के करीब की जब इंदिरा गाँधी की सरकार थी यानिकि इमर्जेन्सी के टाइम की तब अभी गवर्नमेंट की तरफ से प्रेस यानि मीडिया इ ऊपर बहोत दबाव बनाया जाता था.

जैसे जैसे टाइम चलता जाता है नयी सरकार आती जाती है और साथ में प्रेस का भी काम करने का तरीका कीच बदलता रहता है.

अगर बात करे अभी के समय की यानि 2018 की तो आज के समय में प्रिंट मीडिया, टीवी मीडिया और सोशियल मीडिया सभी का बहोत ज्यादा योग दान रहता है, लेकिन अभी के हालत कुछ ऐसे बताये जाते है की जो पिछली सरकार के समय में प्रेस जैसे काम करता था वैसा काम अभी के समय में नहीं हो राजा है, साथ में यह भी कहा जाता है की प्रेस की आज़ादी छीन ली गयी है.

इस World Press Freedom Day‬‬ 2018 के सुबह अवसर पर आज हम कुछ ऐसे पत्रकार के बारे में बताने जा रहे है को सही में देश के लिए कुछ अच्छा काम कर रहे है जो अभी टेलीविशन मीडिया से तालुक रखते है. वैसे आज २ हमारे प्रिय पत्रकार है जिसके बारे बताने की कोसिस करेंगे.

Ravish Kumar

सबसे पहले नाम लूंगा NDTV के जाने मने पत्रकार रविश कुमार जी का, वो अपने खास एपिसोड Prime Time की वजह से जाने जाते है, एक निष्पक्ष तरह से कैसे काम किया जाते या फिर कहे की एक सतह तरीकेसे एक नम्रता पूर्वक अपना शो चलाना वो भी देश के सभी बड़े चर्चित विषय पर बात करते हुए बताना.

अभी के समय में रविश कुमार अपने शो में शिक्षा, रोजगार, बढती हुई महंगाई जैसे विषय पर अपना खास ध्यान देते है.

Punya Prasun Bajpai

वैसे ही दूसरे एक पत्रकार है पुण्य प्रसून बाजपेयी.

ये एक ऐसा चहेरा है जो अपने काम से जाना जाता है, प्रसून जी ने पाने जीवन के कार्यकाल में पत्रकार के तोर पर बहोत साडी नोकरिया बदली होगी, और इसकी वजह है एक अपनी निष्पक्ष और सचित पत्रकारिता. पिछले कुछ समय तक वो INDIA TODAY GROUP के एक चैनल AAj TAk में काम कर रहे थे, लेकिन वह पे अपनी कुछ आपसी विचार की तालमेल न होने की वजह से उन्होंने जॉब छोड़ी है (वजह की पृस्ति हम नहीं करते है) और अभी अभी मार्च अप्रैल के महीने में उन्होंने ABP NEWS ज्वाइन कर लिया है.

यह भी रविश कुमार की तरह एक अपने शो में शिक्षा, रोजगार, बढती हुई महंगाई जैसे विषय पर अपना खास ध्यान देते है. उनका मास्टर स्ट्रोक SHOW ABP  NEWS में रत 9 वजे अपना शो चलते है.

वैसे ही बहोत अचे पत्रकार है भारत में जो अपने काम के लिए जाने जाते है जैसे की Barkha दत्त, INDIA Today ग्रुप से है Rajdeep Sardesai.

और सोशल मीडिया में भी बात करे तो बहोत सरे ऐसे लोग है जिसने फेसबुक और यूट्यूब पर अपना चैनल खोल के देश दुनिया की सच्ची और सहोत खबर दिखाने का प्रयत्न करते है जिसमे से एक है ALT News से Pratik सिन्हा और Barkha Dutt जो The क्विंट से है, साथ में ध्रुव राठी भी है जो अपना यूट्यूब में एक चैनल चलते है जो चल रही कोई भी खबर वो सच है या जूठी उसका पर्दाफास करते है